Yog Nidra in Hindi: सबसे सरल योग / योग निद्रा के 7 चमत्कारी लाभ

Yog Nidra in Hindi नींद, एक ऐसी शारीरिक प्रक्रिया है जो हमारे कार्य करने की क्षमता को दो गुना कर देती है। क्या आपको पता है, एक सफ़ल व्यक्ति की सफलता का राज़ उसकी नींद की प्रक्रिया में छिपा रहता है। क्योंकि जिस अवस्था में वह सोता है, उसका अवचेतन मन उसी अवस्था में काम करता है।

यदि आप इस राज़ को जानने तथा इसका प्रयोग कर अपने जीवन में अधिक धन, सुख तथा शांति लाना चाहते हैं तो इसे अंत तक पढ़ें।

Yog Nidra Meditation in Hindi योग निद्रा

योगनिद्रा का शाब्दिक अर्थ देखा जाए तो यह अध्यात्मिक नींद की अवस्था है जिसमें शरीर सो जाता है किन्तु आप पूर्णतः सचेत होते हैं।

Yog Nidra in Hindi नींद एक ऐसी प्राकृतिक प्रक्रिया है जिसमें मन शांत हो जाता है तथा शरीर की कार्य क्षमता बढ़ जाती है। ज़रा सोचिए, यदि इस प्रक्रिया को सोच समझकर और अधिक प्रभावी बना दी जाए तो आपके जीवन में कितने चमत्कारी परिवर्तन हो सकते हैं।

जो असर अन्य ध्यान का अभ्यास देता है उससे अधिक लाभ योग निद्रा से मिलता है। देखते हैं कि योग निद्रा क्यों तथा कैसे करनी चाहिए?

Why to do Yog Nidra in Hindi योग निद्रा क्यों करें

आप सोच रहे होंगे कि यदि ध्यान योग ही करना है तो योग निद्रा के बजाय कोई और ध्यान भी तो कर सकते हैं? योग निद्रा अत्यंत प्रभावी तथा लाभदायक कैसे है इसे एक उदाहरण से समझते हैं।

Yog Nidra in Hindi/ Misticmind

यदि आप किसी यात्रा पर हैं तथा आप १२० किलोमीटर की गति से कार चला रहे हैं। सामने अचानक से कोई व्यक्ति या जीव आ जाता है। आप अचानक ब्रेक लगा देते हैं तो क्या होगा? उम्मीद है जवाब आपको मिल गया होगा!

अब सोचिए कि किस गति से चलना हर हाल में अच्छा होता है। यदि आप तेज़ गति से चल रहे हैं और सुरक्षित ब्रेक लगाना चाहते हैं तो धीरे धीरे गति कम करनी होगी ताकि कोई हानि ना हो। इस प्रक्रिया में समय लगता है।

Yog Nidra in Hindi कुछ ऐसा ही हाल आपके मन का है। दिन भर में इतने विचार चलते हैं कि आप उसे अचानक से ब्रेक लगाकर शांत नहीं कर सकते। यही वजह है कि आजकल ७-८ घंटे की नींद के बावजूद भी सुबह ऐसा लगता है कि थके हुए ही हैं। इसकी वजह? विचारों की गति इतनी तेज़ थी कि शरीर के सो जाने के बावजूद मन को विराम लगने में समय लगा।

ऐसी परिस्थितियों में इंसान बुरे सपने भी देखता है जो उसे फ्रेश नहीं महसूस होने देते हैं।

योग निद्रा मन में चल रहे विचारों की गति को विराम लगाकर अवचेतन मन को उन्हीं इच्छाओं पर काम करने की अनुमति देना है जिसे आप सच होते हुए देखना चाहते हैं।

दूसरे शब्दों में कहूं तो अवचेतन मन को Train करने का सबसे आसान तरीका योग निद्रा है।

How to do Yog Nidra in Hindi/ Yoga Nidra Kaise kare

योग निद्रा कैसे करें

देखा जाए तो सबसे आसान योग विधि यही है, साथ ही सबसे मुश्किल भी है क्योंकि सबसे गहरी नींद इसी इसी योग के दौरान आती है। इसलिए थोड़ा ज्यादा सचेत होकर यह अभ्यास करें।

वैसे नींद आ भी जाती है तो कोई बात नहीं, क्योंकि योग निद्रा का मकसद है वहीं है कि अवचेतन मन को सही दिशा में काम करने के लिए लगाना तथा स्वयं गहरी निद्रा में सो जाना।

यदि आप यह ध्यान दिन के किसी दूसरे समय में कर रहे हैं तो सचेत होकर योग निद्रा का अभ्यास करें।

Yog Nidra in Hindi

१- Yog Nidra in Hindi शवासन में लेटकर शरीर की बिल्कुल शिथिल अवस्था में छोड़ दें। दोनों हाथों तथा पैरों को बिल्कुल सीधा रहें। एक दूसरे से जुड़ा या cross ना रखें।

२- शरीर के आराम की अवस्था का अनुभव करने के लिए पैरों की उंगलियों, तलवे, एड़ी घुटने एक एक करके थोड़ा सा हिलाएं और ढीला छोड़ दें। ठीक यही प्रक्रिया दूसरे पैर के साथ करें।

३- अब ध्यान को दाहिने हाथ की उंगलियों पर ले आएं, एक- एक करके सारी उंगलियों को हिलाकर ढीला छोड़ दें। फिर पूरी हथेली, तथा धीरे धीरे ध्यान को कंधे तक लाएं। यही प्रक्रिया दूसरे हाथ के साथ करें।
याद रहे जहां भी ध्यान ले का रहे हैं, उस अंग को बिल्कुल ढीला छोड़ते जाएं।

३- Yog Nidra in Hindi अब ध्यान को कमर से ऊपर, पीठ, कंधे अर्थात पूरे पीठ में बारीकी से ध्यान को घुमाएं। रीढ़ की हड्डी के दोनों तरफ़ ध्यान ले जाएं और हल्का करते जाएं।

४- अब पेट, छाती, गला गर्दन से होते हुए ध्यान को सिर में चारों तरफ़ घुमाते हुए बंद आंखों के साथ पूरे शरीर को बिल्कुल शिथिल छोड़ दें। इस प्रकार पूरा शरीर आराम की अवस्था में जाने दें।

५- अब ५ से १० लंबी गहरी सांस लें, ध्यान रहे सांसों को पेट तक महसूस करें। फिर बाहर छोड़ दें।

६- अब एक छोटा सा चमकता सितारा आकाश से उतरता हुआ तथा अपने पास आता हुआ देखें। कल्पना में अपने पास पैरों के तलवे के पास उसे महसूस करने की कोशिश करें। उसकी ठंडक, ऊष्मा, अपने शरीर के तापमान के हिसाब से महसूस करें (सर्दियों में ऊष्मा तथा गर्मियों में ठंडक)

७- Yog Nidra in Hindi दहिने पैरों के तलवे से उस सितारे को अपने शरीर में प्रवेश होता देखें। धीरे धीरे उसे पैरों से ऊपर आने दें। पैरों के अंदर, हड्डियों, नसों के अंदर उसकी गरमाहट महसूस करें। फिर दूसरे पैर में के जाएं। पूरे पैर में उसे गतिमान, आगे बढ़ता देखें और पैरों में हो रही संवेदना को। महसूस करें।

८- जिस प्रकार अपने अपने ध्यान को शरीर शिथिल करने के लिए एक एक अंग से होकर गुजरते हुए देखा था, ठीक उसी प्रकार बारीकी से इस सितारे को उसी Sequence से शरीर के हर अंग से जाने दें। पैरों के बाद पीठ का हिस्सा, फिर पेट तथा सामने के सारे अंग जैसे कि किडनी, पाचन तंत्र, हृदय, फेफड़ा इत्यादि। गले से होते हुए उस सितारे को चेहरे, आंख नाक कान गालों, के बाद पूरे सिर के घुमाएं।

९- जिस भी अंग से होकर वह सितारा गुज़रे वहां पर को भी sensation हो, उसे महसूस करें किन्तु प्रतिक्रिया ना दें। अंत में सितारे को अपने सिर के तालू वाले हिस्से से निकलकर आसमान में जाता हुआ देखें।

जब तक मन हो, इसी अवस्था में रहें, फिर उठ जाएं।

Also Read: Meditation Benefits for Brain in Hindi: 7 Amazing Benefits to Boost Your Life

Benefits of Yog Nidra in hindi योग निद्रा से होने वाले लाभ

यदि आप ऊपर बताई हुई विधि से योग निद्रा का अभ्यास निरंतर करते हैं तो कई शारीरिक तथा मानसिक लाभ देखने को मिलेंगे।

१- Yog Nidra in Hindi सर्वप्रथम अनिद्रा की शिकायत दूर होने के साथ आपको गहरी और सुकून वाली नींद आएगी। दूसरे शब्दों में कहूं तो आपके विचारों में विराम लगने की वजह से आपका अवचेतन मन सही दिशा में कार्य करेगा।

Yog Nidra in Hindi

२- जैसा कि शरीर के अंगों के आसपास होती गतिविधियों को आपको बस देखना, आभास करना है, किन्तु प्रतिक्रिया नहीं करनी है। फलस्वरूप साक्षी भाव बढ़ जाएगा, किसी भी परिस्थिति में तुरंत प्रभावित नहीं होंगे।

३- शरीर में कहीं कोई दर्द या मन में किसी प्रकार की चिंता से तुरंत आराम मिलता है। जब आप शरीर के एक- एक अंगों को सचेत होकर ढीला छोड़ते है तो उसके आस पास का दर्द गायब होने लगता है। दर्द तभी होता है जब उस तरफ़ ध्यान नहीं दिया जाता।

४- Yog Nidra in Hindi शरीर की कोई भी चोटी बड़ी बीमारी ठीक होने लगती है। जिस प्रकार रेकी शरीर को स्वस्थ करने का काम करती है, ठीक उसी प्रकार योग निद्रा भी बीमारियों से मुक्ति देने में सहायक हैं जब आप सितारे को(जो कि Healing energy ऊर्जा का स्रोत है) अपने शरीर के प्रत्येक अंग के पास से के जाते हैं तो उसकी ऊर्जा उन अंगों को हील करती जाती है।

५- स्वयं को बेहतर समझने की क्षमता तथा परिस्थितियों से बेहतर लड़ने की समझ बढ़ जाती है। अक्सर इंसान जब खुद से अलग होता है तो समस्याओं को सुलझाने में स्वयं असमर्थ होता है। योगनिद्रा से आप सिर्फ अपने शरीर को ही नहीं बल्कि मन से भी जुड़ जाते हैं। परिणामस्वरूप संपूर्ण जीवन सही दिशा में जाने लगता है तथा खुशियां आपके जीवन में चलकल आती है।

६- ब्रेन को सही दिशा देकर अपने सपनों को साकार करने का सबसे प्रभावी तरीका योग निद्रा है। जब आप योगनिद्रा का अभ्यास करते हैं तो आपका शरीर, चेतन मन सो जाता है किन्तु अवचेतन मन जाग जाता है। आप सचेत होते हैं, ऐसे में आप अपने विचारों को चुन सकते हैं। इसी अवस्था में सही विचारों के बीज मन में डाल दें।

Yog Nidra in Hindi

७- जिस प्रकार अपने मन को कोई विचार देकर जीवन बदला का सकता है। उसी प्रकार मन को किसी भी छोटी अथवा गंभीर बीमारी को ठीक करने का विचार देकर उस बीमारी से मुक्ति पाई जा सकती हैं। इसकी प्रक्रिया जानने के लिए नीचे लिंक पर जाकर पढ़ें।

Subconscious Mind in Hindi: 7 Easy Ways to Activate Its Power

Yog Nidra in Hindi – FAQs

१- योग निद्रा के दौरान क्या होता है?

योग निद्रा मस्तिष्क की गतिविधियों को ढीला कर देता है। शरीर को पूर्णतः सचेतन अवस्था में गहरे विश्राम का लाभ देता है।

२- ध्यान तथा योग निद्रा में क्या अंतर है?

किसी भी ध्यान का अभ्यास करने के लिए उचित स्थान, बैठने की अवस्था, आसान, वातावरण, समय आदि का खयाल रखना पड़ता है। जबकि योगनिद्रा आपको लेटकर करना है तो आप रात को सोने से पहले भी कर सकते हैं। अलग से समय निकालने की जरूरत नहीं पड़ती।

३- क्या मैं योग निद्रा बिस्तर पर कर सकता हूं?

बिल्कुल कर सकते हैं। हो सकता है शुरू में आप बीच में ही सो जाएं किन्तु कोई बात नहीं। कुछ दिनों के अभ्यास के बाद आप पूरा एक साइकिल पूरा करने तक सचेत राह पाएंगे।

४- क्या योग निद्रा सच में काम करती है?

शत प्रतिशत! पहले ही दिन आपको अपने नींद में अंतर दिख जाएगा।

५- क्या योग निद्रा नींद से बेहतर है?

जी हां, सौ गुना ज्यादा बेहतर है, क्योंकि यह एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें ना सिर्फ आपके शरीर बल्कि आपके मन पर भी आपका कंट्रोल होता है। आप इसे अपने तरीके से प्रयोग कर सकते हैं। सीधे सीधे कहूं तो जीवन बदलने का सबसे जबरदस्त और आसान तरीका यही है।

Final Words: उम्मीद है आप इस सरल किन्तु प्रभावी योग का अभ्यास अपने जीवन के स्तर को ऊपर उठाने में प्रयोग करेंगे। Yog Nidra in Hindi

यदि आप Guided Yognidra/YogaNidra सीखना चाहते हैं या जीवन के किसी भी समस्या का समाधान पाने के लिए, हमें मेल पते पर संपर्क कर सकते हैं।

 

1 thought on “Yog Nidra in Hindi: सबसे सरल योग / योग निद्रा के 7 चमत्कारी लाभ”

Leave a Reply

%d bloggers like this: