पुष्पधन्वा रस के फायदे और और नुकसान | Pushpadhanwa Ras in Hindi

Price of Pushpadhanwa Ras in Hindi | Pushpadhanwa Ras ke Fayde | Pushpadhanwa Ras in Hindi | Ingredents of Pushpadhanwa Ras in Hindi

वैवाहिक जीवन में मधुरता बनाए रखने के लिए दंपत्तियों का स्वास्थ्य अत्यन्त महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है। ऐसे में पुष्पधन्वा रस व्यक्ति को शरीरिक, मानसिक एवं भावात्मक रुप से स्वस्थ रखने में मदद करता है। पुष्पधन्वा रस आयुर्वेद की उपज है।

मानव स्वास्थ्य को सुदृढ़ रखने के लिए आयुर्वेद ने अत्यन्त महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई है। हालांकि आयुर्वेदिक दवाइयां अन्य दवाइयों से सुरक्षित होती हैं, फिर भी सुझाव यही रहेगा कि इसका सेवन करने से पहले एक बाद किसी आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह अवश्य लें। 

Advertisement

MysticMind के इस आर्टिकल में हम आपको रस के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे। 
इस लेख में हम आपको बताएंगे, कि इसके घटक कौन से हैं?, पुष्पधन्वा रस क्या है?, इसके फायदे क्या-क्या हैं?, इसके नुकसान क्या-क्या हैं? और इसका उपयोग कैसे करना चाहिए इत्यादि।

आइए जानते हैं कि पुष्पधन्वा रस क्या है तथा यह किन चीजों से मिलकर बनता है। 

What is Pushpadhanwa Ras in Hindi | पुष्पधन्वा रस क्या है

पुष्पधन्वा रस एक ऐसी आयुर्वेदिक दवा है, जो खासकर बांझपन और यौन शक्ति जैसे परेशानियों के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलावा भी इसका उपयोग कई अन्य समस्याओं के लिए हो सकता है।

Advertisement

Also Read: औषधीय गुणों से भरपूर माल्टा फल के लाभ

पुष्पधन्वा रस में कौन से घटक होते हैं? Ingredients of Pushpadhanwa Ras in Hindi

  • रस सिन्दूर
  • नाग भस्म
  • अभ्रक भस्म
  • वंग भस्म
  • लौह भस्म
  • भांग
  • मुलेठी
  • धतूरा
  • नागर बेल
  • सेमल की छाल

पुष्पधन्वा रस का सेवन पुरुषों एवम् स्त्रियों दोनों के लिए विशेष लाभकारी है।। आइए जानते हैं कि पुष्पधन्वा रस के क्या क्या लाभ होते हैं

Advertisement

Benefits of Pushpadhanwa Ras in Hindi | पुष्पधन्वा रस के फायदे

महिलाओं को पुष्पधन्वा रस का क्या फायदा होता है?

1- पुष्पधन्वा रस के नियमित सेवन से महिलाओं की कामेच्छा बढ़ती है, जिससे गर्भधारण की संभावना बढ़ जाती है।

2- महिलाओं को कई तरह की समस्या से निजात दिलाने में कारगर होता है पुष्पधन्वा रस। जैसे कई महिलाएं ऐसी होती हैं, जिन्हें शारीरिक संबंध बनाने में रुचि नहीं रह जाती।

Advertisement

3- ऐसी महिलाओं के लिए पुष्पधन्वा का रस काफी फायदेमंद होता है। तो वहीं इसके सेवन से बांझपन से जुड़ी समस्या को भी खत्म किया जा सकता है।

Also Read: जानिए हर्निया के कारण, प्रकार और इसके इलाज 

Benefits of Pushpadhanwa Ras in Hindiपुरुषों में पुष्पधन्वा रस के फायदे

वीर्य को गाढ़ा करता है – अगर कोई पुरुष वीर्य के पतलेपन से परेशान रहता है, तो उसे पुष्पधन्वा रस का सेवन अवश्य करना चाहिए। अगर आपके मन में ये सवाल आ रहा है कि आखिर वीर्य पतला किस वजह से होता है तो बता दें कि इसके पतला होने के पीछे कई कारण होते हैं, जैसे – योनि मैथुन, गुदा मैथुन, अप्राकृतिक मैथुन या अत्यधिक हस्तमैथुन के अलावा गलत रहन-सहन और गलत खान पान की वजह से भी वीर्य पतला हो जाता है।

Advertisement

शीघ्रपतन में – अगर आप इस बात से परेशान रहते हैं कि संभोग के दौरान आपको शीघ्रपतन की समस्या से दो-चार होना पड़ता है, तो उसके लिए आप पुष्पधन्वा का सेवन कर सकते हैं।

ये परेशानी पुरुष और महिला दोनों में होती है। लेकिन अगर ये समस्या ज्यादा लंबे समय से चली आ रही है और समस्या ज्यादा है, तो जल्द इसका इलाज करवाना चाहिए। जिससे बाद में होनेवाली परेशानी से बचा जा सके।

Benefits of Pushpadhanwa Ras in Hindi

नपुंसकता में – नपुंसकता एक बहुत ही बड़ी परेशानी होती है। इसकी वजह से इंसान माता-पिता के सुख से वंचित रह जाते हैं। ऐसे में समझ नहीं आता कि क्या करें। अगर आप भी नपुंसकता की परेशानी से ग्रस्त हैं, तो आपको पुष्पधन्वा का सेवन अवश्य करना चाहिए।

Advertisement

ये नपुंसकता को दूर करने में काफी ज्यादा मददगार होता है। वैसे इस समस्या के निदान के लिए डॉक्टर की सलाह लेना आवश्यक होता है।

संभोग करने की इच्छा में – बहुत सी महिलाएं और पुरुष ऐसे होते हैं, जिन्हें संभोग करने में दिलचस्पी काफी कम हो जाती है। खासकर ये तब होता है, जब किसी काम का दबाव ज्यादा हो, या फिर मानसिक तौर पर परेशान रहते हों।

इसके लिए आपको पुष्पधन्वा का रस काफी ज्यादा फायदेमंद हो सकता है। ये आपके संभोग करने की इच्छा को फिर से जागृत करने में मदद करता है, जिससे आपका वैवाहिक जीवन सुखमय बना रहता है।

Advertisement

गर्भाशय में फायदेमंद – पुष्पधन्वा रस महिला और पुरुष दोनों के लिए ही काफी फायदेमंद होता है। शादी शुदा कोई भी महिला इसका सेवन आराम से कर सकती हैं।

इसके सेवन से कई प्रकार के रोग में फायदा मिलता है। यहां तक कि बांझपन की समस्या में भी ये लाभदायक होता है। कुछ महिलाओं को गर्भधारण करने में परेशानी होती है, या कई बार तो कुछ महिलाएं गर्भधारण कर ही नहीं पाती हैं।

इस तरह की समस्या से निजात दिलाने में पुष्पधन्वा का रस काफी ज्यादा फायदेमंद होता है। ये बांझपन जैसी कई समस्याओं से छुटकारा दिलाने का काम करता है।

Advertisement

पुष्पधन्वा के नुकसान Disadvantages of Pushpadhanwa Ras in Hindi

दवाई चाहे कोई भी हो उसके फायदे और नुकसान दोनों होते ही हैं। इसलिए पुष्पधन्वा के भी अगर कई फायदे हैं, तो कुछ मामलों में ये नुकसानदेह भी हो सकता है। इसलिए आवश्यक है कि इसका सेवन करने से पहले इससे होने वाले नुकसान के बारे में भी जान लें। तो आइए जानते हैं पुष्पधन्वा किस तरह से नुकसानदायक होता है।

1. हमने ऊपर आपको इसके घटक के बारे में बताया ही है, कि इसे बनाने के लिए भांग और धतूरा का भी इस्तेमाल किया जाता है। दरअसल ये नशीला पदार्थ होता है, इसलिए इसका ज्यादा मात्रा में सेवन करने से कई अन्य तरह की परेशानी उत्पन्न हो सकती है। इसलिए पुष्पधन्वा का जरूरत से ज्यादा सेवन नुकसानदेह साबित हो सकता है।

2. अगर आप पुष्पधन्वा का सेवन करना चाहते हैं या चाहती हैं, तो उससे पहले डॉक्टर की सलाह जरूर ले लें। अपनी मर्जी से इसका सेवन करना हानिकारक हो सकता है। क्योंकि ये आपकी समस्या पर निर्भर करता है कि आपको कितनी मात्रा में इसके सेवन की आवश्यकता है।

Advertisement

3. बच्चों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए। ये सिर्फ उन्हीं लोगों के लिए है, जो शादीशुदा हैं। कुंवारे लोगों को इसके सेवन से बचना चाहिए।

पुष्पधन्वा रस का सेवन कैसे करें | How to Use Pushpadhanwa Ras in Hindi

कभी भी खाना खाने के बाद ही पुष्पधन्वा रस का सेवन करने की सलाह दी जाती है। भोजन के बाद शहद के साथ इसका सेवन करना चाहिए। आमतौर पर एक दिन में दो बार इसका सेवन करने की सलाह दी जाती है।

एक बार सुबह को नाश्ता के बाद और फिर रात को खाना खाने के बाद। शहद के अलावा दूध और मिश्री के साथ भी पुष्पधन्वा का सेवन किया जा सकता है।

Advertisement

पुष्पधन्वा रस की कीमत कितनी होती है? | Price of Pushpadhanwa Ras in Hindi

पुष्पधन्वा रस के एक डिब्बे की कीमत 193 रुपए होती है। इसे आप किसी भी हकीम या दवाई की दुकान से आसानी से खरीद सकते हैं। इसके अलावा ऑनलाइन भी घर बैठे इसका ऑर्डर कर सकते हैं।

अगर आप ऑनलाइन इसका ऑर्डर करते हैं तो कुछ छूट भी मिल जाती है। इसके एक डिब्बे में आपको 40 गोलियां मिल जाएंगी।

FAQS

Advertisement

प्रश्न 1 – कितने दिनों तक पुष्पधन्वा रस का सेवन करना चाहिए?

उत्तर – आमतौर पर 4 से 6 सप्ताह तक पुष्पधन्वा रस का सेवन करने की सलाह दी जाती है। इसका ज्यादा सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर ले लेनी चाहिए।

प्रश्न 2 – क्या पुष्पधन्वा रस के सेवन से इसकी आदत भी पड़ जाती है?

उत्तर – नहीं, पुष्पधन्वा रस के सेवन से इसकी आदत नहीं पड़ती है, क्योंकि इसे बनाने में किसी प्रकार के हानिकारक चीजों का इस्तेमाल नहीं किया जाता है।

Advertisement

प्रश्न 3 – क्या शराब के साथ पुष्पधन्वा रस का सेवन किया जा सकता है?

उत्तर – अगर आप शराब के साथ पुष्पधन्वा रस का सेवन करेंगे, तो इसके कई विपरीत असर भी आपको देखने को मिल सकते हैं। इसलिए कभी भी शराब के साथ इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

प्रश्न 4 – क्या पानी के साथ पुष्पधन्वा रस का सेवन किया जा सकता है?

Advertisement

उत्तर – हां, लेकिन पानी गुनगुना होना चाहिए। यानी कि गुनगुने पानी के साथ पुष्पधन्वा रस का सेवन किया जा सकता है।

प्रश्न 5 – क्या हर तरह के यौन रोग का इलाज पुष्पधन्वा रस से संभव है?

उत्तर – यौन रोग से जुड़े ज्यादातर समस्या के इलाज के लिए इसका असर धीरे-धीरे हो सकता है। इसके सेवन के साथ-साथ भोजन पर भी विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता होती है।

प्रश्न 6 – क्या गर्भवती महिलाओं के लिए पुष्पधन्वा रस सुरक्षित है?

Advertisement

उत्तर – इस दवा को बनाने के लिए जिन चीजों का इस्तेमाल किया जाता है, उनमें से कोई भी चीज हो सकता है कि गर्भावस्था में नुकसानदायक हो। इसलिए गर्भवती महिलाओं को इसके सेवन से बचना ही चाहिए। या फिर अगर आप इसका सेवन करना चाहती हैं, तो डॉक्टर की सलाह जरूर ले लें।

प्रश्न 7 – स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए पुष्पधन्वा रस सुरक्षित है या नहीं?

उत्तर – स्तनपान कराने वाली महिलाओं पर इसका दुष्प्रभाव देखने को मिल सकता है। ऐसे में अगर आप इसका सेवन करना चाहती हैं, तो डॉक्टर की सलाह के बिना ना करें।

Advertisement

प्रश्न 8 – क्या मासिक धर्म चक्र पर पुष्पधन्वा रस का कोई बुरा प्रभाव पड़ता है?

उत्तर – चिकित्सक की सलाह के अनुसार इसका सेवन करने से कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है। इसलिए इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर ले लें।

Final Words: उम्मीद है इस लेख में Pushpadhanwa Ras in Hindi से संबंधित आपके सभी सवालों के जवाब मिल गए होंगे। इसका प्रयोग करने से पहले एक बार चिकित्सक से ज़रूर सलाह लें।

Advertisement

यदि आपको यह लेख जानकारी भरा एवं लाभकारी लगा हो तो दूसरों के साथ भी साझा करें।

भविष्य में Pushpadhanwa Ras in Hindi जैसे अन्य आर्टिकल्स को पढ़ने के लिए इस पेज को बुकमार्क कर लें ताकि आप आसानी से पढ़ सकें।

सबका मंगल हो

Advertisement

Disclaimer: यह लेख Pushpadhanwa Ras in Hindi मात्र जानकारी के लिए है, कृपया पुष्पधन्वा रस का प्रयोग करने से पहले चिकित्सक की सलाह अवश्य लें।

3 thoughts on “पुष्पधन्वा रस के फायदे और और नुकसान | Pushpadhanwa Ras in Hindi”

Leave a Reply

%d bloggers like this: