लो ब्लड प्रेशर के 13 कारण और घरेलू उपाय | Low Blood Pressure Ke Lakshan

Low Blood Pressure Ke Lakshan – हमारे शरीर में रक्त का संचार रक्तवाहिनियों के माध्यम से होता है। इन वाहिनियों पर बहते हुए रक्त के दबाव को रक्तचाप या ब्लड प्रेशर कहते हैं। आइए जानते हैं कि किस मात्रा रक्त चाप होने पर उसे निम्न रक्तचाप कहते हैं। अर्थात Low Blood Pressure Kitna Hota Hai? 

ब्लड प्रेशर की नॉर्मल रेंज 90/60 mmH ( दबाव नापने की इकाई) से 120/80 mmHg है। यदि ब्लड प्रेशर 90/60 mmHg से कम है तो इसे लो ब्लड प्रेशर या लो बीपी कहते हैं।

आज कल की भागती दौड़ती जिंदगी मे हमारे लाइफ स्टाइल के चलते लोगो में बीपी लो कि शिकायत देखने को मिल सकती है। यह ध्यान देने का विषय है।

लो बी.पी की वजह से कईं परेशानियाँ पैदा हो सकती हैं। इस अर्टिकले में आपको लो बी.पी कि सारी जानकारी मिल जायेगी। इस आर्टिकल में आप जानेंगे –

Advertisement
  • ब्लड प्रेशर (बी.पी) लो क्यूँ होता है?
  • लो बीपी के क्या लक्षण और इलाज हैं?
  • लो ब्लड प्रेशर को तुरंत कंट्रोल करने के उपाय।
  • ब्लड प्रेशर लो होने के नुकसान
  • लो ब्लड प्रेशर कितना होना चाहिए
  • बीपी लो के घरेलू उपाय ।
  • बीपी लो हो तो क्या करना चाहिए।
  • लो ब्लड प्रेशर आयुर्वेदिक उपचार ।
  • बी.पी लो में क्या खाना चाहिए और क्या नही?
  • लो ब्लड प्रेशर की टैबलेट ।

Low Blood Pressure Ke Lakshan जानने से पहले आइए जानते हैं कि किस मात्रा रक्त चाप होने पर उसे निम्न रक्तचाप कहते हैं। अर्थात Low Blood Pressure Kitna Hota Hai? 

बीपी लो होने के कारण 

  1.  निर्जलीकरण (डिहाइड्रेशन) – शरीर में पानी की कमी या डिहाइड्रेशन से बीपी लो हो सकता है। हमारे ब्लड में पानी भी होता है यदि पानी की मात्रा कम हो जाए तो ब्लड की मात्रा भी कम हो जायेगी और रक्तवाहिनियों पर ब्लड का दबाव कम पड़ेगा।
  2. रक्तदान – यदि आपने हाल ही में रक्तदान किया हो तो आपके शरीर में ब्लड की मात्रा कुछ कम हो सकती है। इसके परिणाम में बीपी लो हो सकता है।
  3. प्रेग्नैंसी- प्रेग्नैंसी के दौरान कुछ होर्मोंस् धमनियों को चौड़ा कर देते हैं ताकि खून आसानी से बच्चे तक पहुँच सके।
  4. आंतरिक रक्तस्राव (इंटरनल ब्लीडिंग) – जब धमनियों से निकल कर ब्लड का स्त्राव शरीर के अंदर ही होनी लगता है तब लो बीपी की शिकायत हो सकती है।
  5. चिंता (anxiety) – चिंतित रहने से भी बीपी लो हो सकता है।
  6. अंत: स्रावी विकार (endocrine disorder)
  7. अंत: स्रावी विकार जैसे डाएबेटीज, थेरोइड आदि से भी बीपी लो हो सकता है।
  8. दिल की बिमारियाँ – हमारे शरीर में ब्लड पंप करने का काम दिल करता है। यह कितने प्रेशर से पंप करता है, यह चीज भी ब्लड प्रेशर तय करती है।
  9. लिवर की बीमारी लिवर की बीमारी की वजह से बीपी लो हो सकता है ।
  10.  तेज़ बुखार और डायरिया
  11. हीट स्ट्रोक – अगर आपके शरीर मे गर्मी बढ़ जाती है और कम नही हो पा रही तो यह आपके बीपी को लो कर सकता है ।
  12. आनुवंशिक कारण – यदि आपकी फैमिली हिस्ट्री में लो बीपी रहा है तो आपको भी यह हो सकता है।
  13. सेपसिस – सेपसिस के परिणाम के रूप में भी बीपी लो हो सकता है।
Low Blood Pressure Ke Lakshan जानने के पहले आइए जानते हैं कि Blood Pressure Low Kyu Hota hai? दूसरे शब्दों में कहें तो निम्न रक्तचाप के क्या कारण होते हैं? 

लो बीपी के क्या लक्षण | Symptoms of Low Blood Pressure in Hindi

अगर बीपी लो है तो आपको निम्न लक्षण दिख सकते हैं –

  1. चक्कर आना
  2. कमज़ोरी महसूस करना
  3. जी मिचलना
  4. धुंधला दिखाई देना
  5. काम में ध्यान लगने में मुश्किल महसूस करना
  6. थकावट
  7. धड़कनो का अनियमित होना
  8. छाती में दर्द
  9. साँसें तेज होना

Low Blood Pressure Ke Lakshan जानने के बाद जानते हैं कि कैसे बीपी लो होने पर इलाज किया जा सकता है? 

Advertisement

बीपी लो होने पर इलाज Low Blood Pressure Treatments In Hindi

Healthy Food For Low Blood Pressure Images

  1. खाने में नमक की मात्रा बढ़ाना –  ज्यादा नमक खाने से हाई बीपी की शिकायत हो सकती है । पर जिन लोगो का बीपी लो है वह नमक की मात्रा बढ़ा कर बीपी को नॉर्मल कर सकते हैं। इस बात का ध्यान रखें की आप यह डॉक्टर की सलाह से ही करें।
  2. खूब पानी पियें – अपने शरीर को हैड्रेटेड रखें और भरपूर पानी पीते रहें।
  3. तरल पदार्थों का सेवन करें।
  4. शराब का सेवन कम करें – शराब हमारे शरीर में पानी की कमी करती है इसलिए इसका सेवन कम कर दें।
  5. दवाईयां – दवाइयों से भी बीपी नॉर्मल किया जा सकता है।
  6. व्यायाम – रक्त के बहाव को सही रखने के लिए व्यायाम करें।
  7. कंप्रेशन स्टॉकिंग्स – इन्हे सपोर्ट स्टॉकिंग्स भी कहते हैं । यह पैरों में दबाव बनाती हैं और ब्लड प्रेशर में सुधार करती हैं।
  8. पैरों को क्रॉस करके बैठें – इससे बीपी बढ़ जाता है।
  9. मेडिटेशन – ध्यान लगाएं।

Low Blood Pressure Ke Lakshan जानने के बाद जानते हैं कि कैसे निम्न रक्तचाप को तुंरत कुछ घरेलू नुस्खों से सामान्य किया जा सकता है? 

लो ब्लड प्रेशर को तुरंत कंट्रोल करने के उपाय

  • बादाम – बादाम में हेल्दी ओमेगा 3 फैटी एसिड, प्रोटीन और एसेंशियल विटामिन होते हैं।
  • चाय या कॉफी पीने से बीपी कंट्रोल में ला सकते हैं।
  • ऐसा नाश्ता जिसमे नमक हो खायें।
  • खूब पानी पियें।
  • नटस् खायें ।
  • अगर बीपी लो हो तो एक दम से खाने का बड़ा पोर्शन ना लें। इसकी जगह थोड़े थोड़े समय के अंतराल पर पौष्टिक आहार लें।
  • आप कैन सूप का सेवन कर सकते हैं।
  • अगर आप लेटे या बैठे हुए हो तो एकदम से ना उठें।ऐसा करने से चक्कर आ सकते हैं। आराम से उठें ।
  • हाथ पैर चलाते रहें ।
  • लंबे बेड रेस्ट पर ना रहें।
  • पानी में नमक घोल कर पियें। इसमे सोडियम होता है।
रक्तचाप को सामान्य रखने में योगासनों का अत्यन्त महत्त्व है। यदि आप जानना चाहते हैं कि वे कौन कौन से आसन हैं जो लो ब्लड प्रेसर को बढ़ाने में मदद करते हैं तो नीचे दिए लिंक पर जाकर विस्तार से जानें। 
Low Blood Pressure Ke Lakshan के साथ साथ यह जानना भी अति आवश्यक है कि रक्तचाप कम होने से अन्य क्या समस्याएं हो सकती हैं? 

ब्लड प्रेशर लो होने के नुकसान

ब्लड प्रेशर लो होने के कारण आपको परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। नीचे मैंने कुछ नुकसान बताएं हैं जो लो बीपी की वजह से हो सकते हैं। –

Advertisement
  1. बीपी लो होने की वजह से आप थका हुआ महसूस करेंगे तो अपने दिनचर्या के काम करने में मुश्किल का सामना करेंगे।
  2. आपको बार बार चक्कर आ सकते हैं।
  3. यदि बीपी बहुत कम हो तो मस्तिष्क तक रक्त पहुँचने में कठिनाई हो सकती है।
  4. लो बीपी किडनी के काम को भी प्रभावित कर सकता है। इससे किडनी संभंधित परेशानियाँ हो सकती हैं।
  5. लो बीपी से दिल की बिमारियाँ हो सकती हैं।
  6. शरीर में ओकसीजन की सप्लाई कम हो सकती है। ओकसीजन हमारी हर कोशिका के लिए ज़रूरी है।

लो ब्लड प्रेशर कितना होना चाहिए ?

जैसा कि मैंने पहले भी मेंशन किया हुआ है नॉर्मल ब्लड प्रेशर की रेंज 90/60 mmHg से 120/80 mmHg है तो 90/60 mmHg से कम बीपी लो बीपी है। लो बीपी को हाइपोटेंशन भी कहते हैं।

आप किस प्रकार का भोजन करते हैं वह भी आपके स्वास्थ्य को प्रभावित करता है। आइए जानते हैं कि Low Blood Pressure Mein Kya Khana Chahiye? 

बीपी लो के घरेलू उपाय

  1. तुलसी – तुलसी की पत्तियों में पोटैशियम, मग्नेशियम और विटामिन सी होता है। यह सभी बीपी को नॉर्मल रखने में मदद कर सकते हैं।
  2. मुनक्के – मुनक्को को रात भर भिगो कर रखें । सुबह दूध के साथ उबाल कर पी लीजिये। आप चाहे तो इन्हें नाश्ते में भी शामिल कर सकते हैं।
  3. बादाम का दूध – पांच से सात बादाम रात भर पानी में भिगो कर रखें । सुबह इन्हे छील लें । इनका एक पेस्ट बनाकर उबाल लें। अब आप इसे पी सकते हैं।
  4. कैफ़ीन – कैफ़ीन वाले पदार्थ जैसे चाय कॉफी पियें| यह आपका बीपी बढ़ा देते हैं।
  5. चुकंदर और गाजर का जूस पियें । यह लो बीपी के लिए जबरदस्त remedy है।
  6. ग्रीन टी का सेवन कर सकते हैं।
  7. दूध में वीटामिन B12 मिलता है। जो कि लो बीपी वाले लोगो को लेना चाहिए।
    बीपी लो होने पर क्या करें?
  8. खाने में नमक की मात्रा बढ़ाना – ज्यादा नमक खाने से हाई बीपी की शिकायत हो सकती है । पर जिन लोगो का बीपी लो है वह नमक की मात्रा बढ़ा कर बीपी को नॉर्मल कर सकते हैं। इस बात का ध्यान रखें की आप यह डॉक्टर की सलाह से ही करें।
  9. खूब पानी पियें – अपने शरीर को हैड्रेटेड रखें और भरपूर पानी पीते रहें।
  10. तरल पदार्थों का सेवन करें।
  11. दवाईयां – दवाइयों से भी बीपी नॉर्मल किया जा सकता है।
  12. व्यायाम- रक्त के बहाव को सही रखने के लिए व्यायाम करें।
  13. अगर बीपी लो हो तो एक दम से खाने का बड़ा पोर्शन ना लें। इसकी जगह थोड़े थोड़े समय के अंतराल पर पौष्टिक आहार लें।
  14. आप कैन सूप का सेवन कर सकते हैं।
  15. अगर आप लेटे या बैठे हुए हो तो एकदम से ना उठें।ऐसा करने से चक्कर आ सकते हैं। आराम से उठें ।
  16.  हाथ पैर चलाते रहें ।
  17. बेड रेस्ट पर ना रहें।

यदि आपने कभी Low Blood Pressure Ke Lakshan का अनुभव किया तो घरेलू उपाय से बढ़ाने की कोशिश करें। आयुर्वेद में भी कुछ चीजों को निम्न रक्तचाप में उपयोगी बताया जाता है।

Low Blood Pressure Treatment in Ayurveda

Ayurvedic Products for Low Blood Pressure Images

Advertisement

आयुर्वेद कम साइड इफेक्ट्स के लिए माना जाता है और जड़ से बीमारी पर काम करता है।
आइये देखते हैं लो बीपी होने पर कौन से आयुर्वेदिक उपचार अपनाए जा सकते हैं –

  1. अर्जुना – का उपयोद् हृदय को स्वस्थ रखने के लिए किया जाता है। यह ब्लड प्रेशर को नॉर्मल रेंज में रखने में सहायता करता है । इसलिए इसका इस्तेमाल लो और हाई बीपी, दोनो ही स्थितियों में किया जाता है।
  2. रसोनाम या अदरक – आसानी से घर में मिल जाने वाला अदरक रक्त के संचार को सही रखने में फायदेमंद है।
  3. मंजिष्ठा – इसके पौधे का तने और जड़ों में रक्त को शुद्ध करने के गुण मिलते हैं। यह रक्त संचार को सुधारता है और रक्तस्त्राव को नियंत्रण में रखता है। यह दिल की बीमारियों और कैंसर में भी उपयोगी है।
  4. आमला – आमले के जूस को पीने से भी लो बीपी की समस्या को हल किया जा सकता है।

Also Read: अनिद्रा के लक्षण, कारण एवं निवारण

Low Blood Pressure Ke Lakshan के साथ साथ यह जानना अत्यन्त आवश्यक है कि निम्न रक्तचाप वाले व्यक्ति को क्या खाना चाहिए और क्या नहीं? 

Advertisement

बीपी लो में क्या खाना चाहिए और क्या नही

बीपी लो में क्या खाना चाहिए जिससे वह नॉर्मल हो जाए?

  1. अंडा – अंडे में वीटामिन B12 और होता है जो कि लो बीपी वाले लोगो को लेना चाहिए ।
  2. हरी पत्ते दार सब्ज़ियां जैसे पालक, मेथी, बथुआ आदि।
  3. चाय- कैफ़ीन तुरंत आपका बीपी बढ़ायेगा।
  4. चॉकलेट – चॉकलेट कैसे नही पसंद। इसमे कैफ़ीन मौजूद होता है।
  5. नट्स जैसे बादाम, पिस्ता, काजू, अखरोट, किशमिश आदि।
  6. खट्टे फल जैसे निम्बू, संतरा, मौसमी आदि।
  7. फली
  8. छाना
  9. खजूर – इसे दूध के साथ उबाल कर पियें। खजूर में पोटैशियम पाया जाता है जो लो बीपी में लेना चाहिए। इसमे आयरन भी पाया जाता है।
  10. किशमिश – भीगे हुए किशमिश सुबह खाली पेट खायें।
  11. प्रोसेसेड फूड या रेडी टू मेक खाना खायें । इसमे सोडियम होता है जो की ब्लड प्रेशर लेवल को बढ़ाता है।

बीपी लो में क्या नही खाना चाहिए?

• हाई कार्बोहाइड्रेट वाले खाद्य पदार्थ जैसे केले ,चिप्स, आलू , पस्ता, चावल,केके आदि

• कम नमक वाला या फीका खाना ।

Advertisement

लो ब्लड प्रेशर की टैबलेट

लो ब्लड प्रेशर के लिए टैबलेट भी आती हैं जिन्हे लेने से ब्लड प्रेशर लो से नॉर्मल किया जा सकता है। कुछ प्रचलित टैबलेट की लिस्ट नीचे दी गयी है –

  • ऐलोड्रील
  • फ्रेनिन
  • फेनप्रेस्
  • टरमिन
  • मफेनतर्मयीन
  • मिडोड्रिं
  • अड्रॉनिस
  • फेनप्रेस्

Disclaimer: इन दवाओं को बिना डॉक्टर की सलाह के ना लें। लापरवाही में ली हुई दवा नुकसान भी कर सकती है।

Advertisement

Final Words: उम्मीद करती हूँ आपको लो बीपी से जुड़ी सारी जानकारी मिल गयी होगी। देख रेख और सही खान पान से आप लो बीपी को नॉर्मल कर सकते हैं। Low Blood Pressure Ke Lakshan के साथ साथ निम्न रक्तचाप से जुड़े अन्य सवालों के जवाब भी मिल जल गए होंगे। 

यदि यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने परिवार, मित्रों के साथ सोशल मीडिया पर अवश्य साझा कर दूसरों का मार्ग दर्शन करें। 
भविष्य में “Low Blood Pressure Ke Lakshan” जैसे अन्य जानकारी भरे लेखों को आसानी से पढ़ने के लिए इस पेज को बूकमार्क करना न भूलें। 
सबका मंगल हो

1 thought on “लो ब्लड प्रेशर के 13 कारण और घरेलू उपाय | Low Blood Pressure Ke Lakshan”

Leave a Reply

%d bloggers like this: