Balo ke Liye Yoga। बालों को बनाएँ काला, घना एवं चमकदार

क्या आपके बालों का गिरना बढ़ता जा रहा है या आप बालों के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित हैं?बालों के गिरने से रोकने के लिए, कमज़ोर होने से बचाने के लिए तथा बालों को काला, घना करने के लिए जितना सहज उपाय Balo ke Liye Yoga/योगाभ्यास हैं उतना कुछ और नहीं।

बालों से संबंधित किसी भी समस्याओं से मुक्ति पाने के उपाय आपको इस आर्टिकल में मिलेंगे।

बाल, चेहरे की सुंदरता में चार चांद लगाने वाली प्राकृतिक देन है। दुर्भाग्यवश आधुनिक समय, भाग दौड़, प्रदूषण, गलत खान-पान, तनाव इत्यादि के बालों के स्वास्थ्य पर गहरा प्रभाव डालते हैं।

बालों का गिरना, बालों में रूसी होना अथवा बालों का कमज़ोर होना मात्र बालों के ही नहीं बल्कि आपके शरीरक एवं मानसिक स्वास्थ्य की भी सूचना देता है। स्वस्थ बाल स्वस्थ मस्तिष्क का द्योतक है।

जिस प्रकार सम्पूर्ण शरीर के स्वास्थ्य के लिए प्रोटीन आवश्यक तत्व है, बालों के लिए भी प्रोटीन उतना ही आवश्यक है। जिस प्रकार शारीरिक संरचना सुडौल बनाएं रखने के लिए व्यायाम आवश्यक है, बालों को चमकीला एवं मजबूत बनाने के लिए बालों में मसाज आवश्यक है।

दुर्भाग्यवश आजकल भागदौड़ के इस जीवन में व्यायाम के साथ बालों में तेल लगाने की फुरसत भी लोगों को नहीं मिलती है। इस प्रकार देखा जाए तो प्राकृतिक ज़रूरतों की आपूर्ति नहीं होने के कारण बालों का स्वास्थ्य गिरने लगता है।

बालों के गिरने, असमय सफ़ेद होनेअथवा कमज़ोर होने का सबसे महत्वपूर्ण कारण सिर में रक्त संचार की सुचारू रूप से आपूर्ति न होना है।

MysticMind के इस आर्टिकल में हम How To Stop Hair Fall के लिए साथ कुछ ऐसे Balo ke Liye Yoga के बारे में बताएंगे जिसके अभ्यास से आपने बालों का स्वास्थ्य दो से तीन हफ्तों में ही सुधारने लगेगा।

आइए सबसे पहले Balo ke Liye Yoga के बारे में जानते हैं।

Balo ke Liye Yoga

Vajrasana वज्रासन

balo ke liye yoga/ mysticming

बालों का स्वास्थ्य पेट के स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ है। यदि आपका पेट साफ़ नहीं होता या किसी प्रकार की पाचन संबंधी परेशानी है तो यह आपके बालों को भी प्रभावित करता है।
वज्रासन पेट संबंधी समस्याओं को दूर करने कासहज एवं प्रभावी आसन है।

इस आसन को बहुत ही आसानी से अभ्यास किया जा सकता है। पेट साफ़ एवं स्वस्थ होने से बाल भी मजबूत, घने और काले बनते हैं।

जानें: वज्रासन कैसे करें

Balo ke liye yoga/ पवन मुक्तासन

अंग्रेजी में एयर रिलीविंग पोज के नाम से प्रचलित पवन मुक्तासन पेट में बनने वाले गैस की समस्या से मुक्ति दिलाता है।

पेट के स्वास्थ्य का सीधा असर सिर एवं सिर के आस पास के सभी अंगो पर पड़ता है। इस आसन के नियमित अभ्यास से पेट की सभी समस्याएं दूर हो जाती हैं।

बाल चमकीले, मजबूत एवं घने बनते हैं।

उत्तानासन

इस आसन के अभ्यास के लिए सीधे खड़े होकर आगे की ओर झुका जाता है। इसीलिए अंग्रेजी में इसे स्टैंडिंग फॉरवर्ड बैंड पोज कहा जाता है।

सुबह खाली पेट आसनों के अभ्यास में इसे जोड़ें तथा कम से कम पंद्रह से बीस सेकंड इस आसन की अवस्था में रहें।

इस आसन के अभ्यास से सिर की कोशिकाओं में हलचल होती है जिससे उनमें तनाव कम होता है। रक्त संचार बढ़ता है एवं अनिद्रा की समस्या भी दूर होती है। कब्ज अथवा पाचन तंत्र संबंधी समस्याएं भी दूर होती हैं।

बालों के लिए योगा / balo ke liye yoga में इस आसन का विशेष महत्व है।

Balo ke liye yoga/ अधोमुख आसन

balo ke liye yoga/ mysticming

इस आसन को करने के लिए शरीर को आगे की तरफ़ झुकाया जाता है। इसे अंग्रेजी में डाउनवर्ड फेसिंग डॉग पोज के नाम से जाना जाता है।

सुबह खाली पेट अन्य योगासनों के साथ नियमित एक से तीन मिनट इस आसन में रुके रहने से पेट की समस्याएं दूर हो जाती है।

इस आसन के अभ्यास से पेट के साथ साथ मस्तिष्क की मांस पेशियों पर भी प्रभाव पड़ता है तथा रक्त संचार में सुधार होता है। यह आसन तनाव को कम करने तथा बालों की जड़ों को अन्य पोषक तत्व प्रदान करने में मदद करता है।

इस प्रकार अधोमूख आसन के नियमित अभ्यास से बालों में चमक आने के साथ बाल मजबूत भी बनते हैं। साथ ही बालों के गिरने की समस्या से मुक्ति एवं नए बालों में बढ़ोत्तरी होती है।

सर्वांगासन

इस आसन को अंग्रेजी में ऑल लिंब पोज के नाम से जाना जाता है जिसे सभी आसनों की रानी भी कहते हैं।

यह एक अत्यंत शक्तिशाली तथा प्रभावी आसन है। इसके अभ्यास के लिए सम्पूर्ण शरीर का भर कंधों पर पड़ता है। सिर में तनाव का सीधा असर कंधों पर पड़ता है।

कंधों से तनाव को दूर करने वाला यह आसन सिर तथा मस्तिष्क से तनाव को कम करता है तथा बालों को अधिक चमकीला एवं स्वस्थ बनाता है।

Balo ke Liye Yoga उष्ट्रासन

अंग्रेजी में कैमल पोज के नाम से प्रचलित इस आसन को बैकवर्ड बैंड पोज भी कहा जाता है। अर्थात शरीर को पीछे की तरफ मोड़कर ऊंट के सामन अवस्था बनाना।

इस आसन के नियमित अभ्यास से रीढ़ की हड्डी के साथ सम्पूर्ण शरीर के ऊर्जा का संचार बढ़ जाता है। रीढ़ की हड्डी का सीधा संबध सिर में पड़ता है।

तनाव को कम कर बालों को घना, काला, चमकीला एवं मजबूत बनाने में इस आसन का विशेष महत्व है।

नोट: balo ke liye yoga/  इन आसनों के सही अभ्यास के लिए यूट्यूब पर उपलब्ध वीडियो ज़रूर देखें।

Balo ke Liye Yoga प्राणायाम

सांसों का विशेष रूप से अभ्यास करने पर अनेकों शारीरिक एवं मानसिक लाभ मिलते हैं। इनका असर बालों पर भी पड़ता है।

balon ke liye yoga के साथ इन प्राणायाम का अभ्यास भी लाभकारी है।

१- कपालभाति

कपालभाति शरीर की सम्पूर्ण मशीनी प्रक्रिया के स्वास्थ्य के लिए सर्वोत्तम प्राणायम है। सांसों के माध्यम से संपूर्ण शरीर की अंदरूनी तंत्रिकाओं का व्यायाम कपालभाति प्राणायाम करता है।

जिस प्रकार त्वचा के स्वास्थ्य के लिए त्वचा का मसाज करना आवश्यक है उसी प्रकार अंदरूनी अंगों के स्वास्थ्य के लिए उनका भी व्यायाम आवश्यक है। नियमित कपालभाति के अभ्यास से भीतरी अंगों का व्यायाम होता है।

पेट एवं मस्तिष्क का गहरा संबंध है तथा कपालभाति दोनों ही अंगों को प्रभावित करता है। फलस्वरूप बालों के स्वास्थ्य में सुधार आनेसहज हो जाता है।

जानें: कपालभाति कैसे करें

२- नाड़ी शोधन

balo ke liye yoga/ mysticming

जिस प्रकार एक शहर के हर गली को जोड़ने का काम सड़कें करती हैं उसी प्रकार शरीर के हर अंग को जोड़ने का कार्य शरीर में मौजूद नाड़ियां करती हैं।

सड़कों की यदि साफ़ सफ़ाई न हो तो समय के साथ वहां गंदगी जमा होने लगती है एवं बीमारियों का आगमन शुरू हो जाता है।

शरीर में मौजूद नाड़ियों की सफ़ाई भी आवश्यक होती है। यहां सबसे महत्वपूर्ण यह है कि इसकी सफ़ाई मात्र सांसों के माध्यम से ही हो सकती है। नाड़ियों के स्वच्छ होते ही सम्पूर्ण शरीर में रक्त संचार एवं ऑक्सिजन का भरपूर संचार शुरू हो जाता है। जो बालों के स्वास्थ्य को बेहतर बनाता है।

Yoga For Hair Grwoth का एक अति प्रभावी तरीका नाड़ी शोधन प्राणायाम है।

जानें: नाड़ी शोधन प्राणायाम कैसे करें

३- भस्त्रिका प्राणायाम

गिरते हुए बालों का एक कारण पेट की समस्या जैसे कि अपच अथवा पित्त का बढ़ जाना भी है।

भस्त्रिका प्राणायाम के नियमित अभ्यास से अतिरिक्त कफ, पित्त एवं वायु की समस्या दूर हो जाती है। पाचन तंत्र स्वस्थ, रक्त संचार शुद्ध एवं पेट की चर्बी को घटाकर यह बालों को बढ़ने में तथा चमकदार बनाने में मदद करता है।

जानें: भस्त्रिका प्राणायाम कैसे करें

Exersize to Grow Hair Faster

योगासन, प्राणायम एवं मुद्राओं के अभ्यास के साथ यदि कुछ अन्य व्यायाम द्वारा भी बालों को अधिक मजबूत बनाया जा सकता है। इसके लिए सप्ताह में कम से कम एक बार तेल के साथ सिर का मसाज करें।

गर्दन को इधर उधर घुमाकर व्यायाम करें। साथ ही रोज सुबह जॉगिंग, पैदल चलना भी लाभकारी व्यायाम है।

Mudra Yoga For Hair Growth

पृथ्वी मुद्रा, प्राण मुद्रा तथ वायु मुद्रा, के अभ्यास से बालों के स्वास्थ्य में बढ़ोत्तरी होती है।

Rubbing Nail Yoga For Hair growth

चीनी एक्यूप्रेशर के अनुसार हमारी उंगलियों के नाखूनों के पोर सिर की तंत्रिकाओं से जुड़े होते हैं। जब इंसान अपने नाखूनों के साथ रगड़ता है तो सिर को तंत्रिकाओं पर प्रभाव पड़ता है।

परिणाम स्वरूप सिर में, विशेषकर बालों की जड़ों में रक्त प्रवाह बढ़ जाता है जो बालों के स्वास्थ्य के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है।

FAQS

१- Can Yoga Increase Hair Growth?

योगाभ्यास शरीर की बंद ग्रंथियों को खोलता है तथा शरीर के सभी अंगों में रक्त संचार तथा ऑक्सीजन का प्रवाह बढ़ाता है। फलस्वरूप बालों का गिरना बंद होता है तथा उनमें बढ़ोत्तरी भी होती है।

बालों के संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए योगाभ्यास के साथ सही भोजन तथा दिनचर्या भी आवश्यक है। यदि योगाभ्यास, ताजे फल, सब्जियों के साथ सही दिनचर्या का पालन किया जाए तो सिर्फ़ बालों का स्वास्थ्य ही नहीं बल्कि संपूर्ण स्वास्थ्य में जादुई परिवर्तन का अनुभव किया जा सकता है।

२- Which Exersize Increases Hair Growth?

उपर्युक्त योगासनों के साथ बालों में तेल मसाज, गर्दन का व्यायाम तथा प्राणायम के अभ्यास से बालों में सिर में रक्त संचार बढ़ता है तथा बालों में वृद्धि होती है।

Final Words: इन मुद्राओं,आसनों तथा प्राणायम के अभ्यास मात्र balo ke liye yoga ही नहीं बल्कि संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए उपयोगी है।

उम्मीद है इनका अभ्यास कर आप अपना स्वास्थ्य अधिक अच्छा करेंगे। कॉमेंट करके अपना अनुभव हमारे साथ अवश्य साझा करें।

सबका भला हो

Advertisement

Leave a Reply

%d bloggers like this: