कमर और पेट कम करने के उपाय तथा मोटापे के 8 मुख्य कारण

कमर और पेट कम करने के उपाय: बढ़ता हुआ वजन न सिर्फ आपके फिट शरीर को बेढंगा बनाता है बल्कि इससे कार्य क्षमता भी प्रभावित होती है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यदि समय पर इसको कम नहीं किया गया तो यह चर्बी कई बीमारियों की निमंत्रित करती है।

पेट और कमर का वजन बढ़ना आजकल सामान्य बात हो गई है। किन्तु जितनी आसानी से यह बढ़ता है उतनी ही मुश्किल होती है इसे कम करने में।

यदि आप भी पेट तथा कमर की चर्बी कम करने की कोशिश कर रहे हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद है क्योंकि हम आपके लिए सरल तथा कारगर उपाय लेकर आए हैं।

MysticMind में प्रकाशित सभी लेख दिमाग के इस्तेमाल से कम समय में ज्यादा रिजल्ट्स लाने वाले फॉर्मूले होते हैं। इसलिए ध्यान से पढ़ें।

कमर और पेट कम करने के उपाय  जानने से पहले गहराई से यह जानना अति आवश्यक है कि सबसे आसानी से शरीर के इसी हिस्से में चर्बी क्यो जमा होती है। जब आप कारण समझ जायेंगे तो निवारण आसान हो जायेगा।

कमर और पेट कम करने के उपाय- कमर और पेट पर चर्बी जमा होने के कारण

बढ़े हुए पेट अथवा कमर के कई सूक्ष्म कारण होते हैं, जिनमें से कुछ इस प्रकार हैं:

१- जींस का प्रभाव

जींस अर्थात आनुवंशिक प्रभाव। कई बार कई बीमारियां आनुवांशिक होती हैं जैसे कि मधुमेह अथवा बढ़ता हुआ वजन। शोध ने पता चला है कि इन बीमारियों के सेल्स अगली पीढ़ी में प्रवेश करती है। किन्तु खुशी की बात यह है कि आजकल विज्ञान इतना आगे बढ़ चुका है कि ऐसी बीमारियों पर भी नियन्त्रण पाना सम्भव है। इसलिए घबराने की ज़रूरत नहीं है, आगे आपको उपाय भी मिलेंगे।

२- कमज़ोर पाचन प्रक्रिया

कमर अथवा पेट पर चर्बी बढ़ने का सबसे मुख्य कारण कमज़ोर पाचन तंत्र है। यदि पाचन तंत्र स्वस्थ है तो किसी भी प्रकार का भोजन आसानी से पच जाता है तथा फैट तैयार होने की संभावना कम होती है।

पेट की समस्या, अथवा भोजन ना पचने की समस्या हर उम्र के लोगों में एक आम बात है। सबसे दुखद बात यह है कि इसी समस्या को सबसे ज्यादा अनदेखा किया जाता है। फलस्वरूप बढ़े हुए पेट अथवा कमर आपको चारों तरफ़ देखने के लिए मिलते हैं।

३- मानसिक तनाव

क्या आपको पता है कि पाचन क्रिया का सीधा सम्बन्ध मानसिक स्वास्थ्य से है? यदि आप गौर करेंगे तो पाएंगे कि जब आप तनाव में होते हैं तब आपको ना ही भूख का एहसास होता है ना ही खोजन ठीक से पचता है। मानसिक तनाव भोजन पचाने की प्रणाली को कमज़ोर करता है।

महिलाओं में अक्सर पेट तथा कमर बढ़ने की समस्या होती है क्योंकि उनका मानसिक स्वास्थ्य अक्सर ऊंचा नीचा होता रहता है।

४- हार्मोनल बदलाव

अक्सर ४० की उम्र के बाद शरीर में कई बदलाव हार्मोनल स्तर पर होते हैं। यदि उम्र के इस पड़ाव पर भोजन तथा। मानसिक स्वास्थ्य का खास खयाल नहीं रखा गया तो मोटापा अथवा इसके विपरीत समस्याएं आने की संभावना बढ़ जाती है। स्त्रियों में चालीस मेनोपॉज के बाद अक्सर ऐसी कई। समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

५- अधिक समय तक बैठना

वजन तथा पाचन क्रिया को संतुलित रखने के लिए चलना फिरना अति आवश्यक है। इससे पाचन क्रिया सुचारू रूप से कम करने में मदद होती है। यदि आपका काम दिन भर एक स्थान पर बैठकर करना है तो भी कमर अथवा पेट बढ़ने की संभावना अधिक होती है। अधिकतर ये समस्या उन लोगों में देखी जाती है जो लोग दिन भर कम्प्यूटर पर काम करते हैं।

६- अन्य बीमारियों का दुष्प्रभाव

कई बार वजन का बढ़ना अन्य बीमारियों जैसे थायराइड आदि से संबंधित होता है। कई मामलों में ऐसा भी देखा गया है कि किसी अन्य बीमारी को ठीक करने के लिए जिन दवाइयों का सेवन किया गया उसके दुष्प्रभाव हुए और वजन बढ़ गया।

७- शरीर में पोषक तत्वों की कमी

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन, मिनरल्स, प्रोटीन, इत्यादि पोशाक तत्वों का पर्याप्त सेवन अति आवश्यक है। आजकल लोग भोजन की पोशकता के बजाय उसके स्वाद में अधिक ज़ोर देते हैं। इस कारण भी वजन बढ़ना आम बात हो गई है।

८- ख़ान पान का समय

ख़ान पान में सिर्फ़ पोशाक तत्वों को सम्मिलित करना ही नहीं बल्कि भोजन का सही समय पर करना भी मायने रखता है। आज की लाइफस्टाइल की सबसे बड़ी समस्या यही है कि इन्सान के भोजन का समय सुनिश्चित नहीं है। अक्सर मैंने देखा है जिन लोगों को देर रात खाने की आदत है उनका वजन बहुत जल्दी बढता है तथा शीर बेडौल हो जाता है।

ये कुछ आम कारण थे जिनकी वजह से कमर और पेट की चर्बी का बढ़ना आम बात हो गई है। कमर और पेट कम करने के उपाय के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना और जीवन शैली में छोटे छोटे परिवर्तन करना शामिल है।

कमर और पेट कम करने के उपाय/ बढ़ा हुआ पेट कम करने के घरेलू उपाय

१- कमर और पेट कम करने के उपाय- दौड़

बढ़ा हुआ पेट कम करने के उपाय- व्यायाम ही एकमात्र तरीका है जिससे कम समय में अधिक मोटापा कम किया जा सकता है। शरीर में एकत्रित वसा को जलाने के लिए दौड़ लगाना सबसे अधिक प्रभावी है।

शोध के अनुसार एक घण्टे के सामान्य गति की दौड़ से लगभग ५०० कैलरी आसानी से बर्न की जा सकती है। दौड़ एक उच्च तीव्रता वाला व्यायाम है अतः अपनी उम्र स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर समय तथा गति का चुनाव करें।

२- सुबह -शाम नियमित चलना

बढ़ा हुआ पेट कम करने के उपाय- दौड़ना सबसे लिए संभव नहीं होता किन्तु सुबह शाम कम से कम ३० से ४० मिनट तक चलने से भी अच्छे परिणाम होते हैं। नियमित रूप से तीव्र गति से चलना कमर तथा पेट पर जमा चर्बी को आसानी से कम करने में सहायक है।

पेट तथा कमर पर जमा फैट अन्य बीमारियों को भी निमंत्रण देता है। ऐसे में तेज़ गति से नियमित चलना ना सिर्फ़ कमर और पेट की चर्बी जलाकर आपको सुडौल बनाता है बल्कि अन्य बीमारियों जैसे के हृदय रोग आदि से भी सुरक्षित करता है।

३- कमर और पेट कम करने के उपाय- साइकिल चलाना

पेट तथा कमर की चर्बी कम करने में कार्डियो का अत्यन्त महत्वपूर्ण स्थान है। कार्डियो ना सिर्फ इकट्ठी चर्बी को जलाने में मदद करता है बल्कि पाचन क्रिया के स्वास्थ्य में भी सहायक है।

जिसमें साइकलिंग एक रोचक तथा प्रभावी तरीका है। आप चाहें तो सड़क पर अथवा एक स्थान पर रहकर भी इस व्यायाम को कर सकते हैं। शोध के अनुसार यदि प्रतिदिन ४० से ६० मिनट तीव्र गति से साइकलिंग करने वालों की ३०० तक कैलरी आसानी से जल जाती है।

४- कमर और पेट कम करने के उपाय- तैराकी

कमर और पेट कम करने के उपाय/ Swimming Images
कमर और पेट कम करने के उपाय में एक अहम तरीका तैराकी है। चूंकि तैराकी एक धीमी प्रक्रिया हो सकती है किन्तु इसका परिणाम अवश्य होता है क्योंकि आप इस प्रक्रिया को खुश होकर करते हैं।

एक शोध में पाया गया कि माध्यम उम्र की कुछ महिलाएं जो सप्ताह में केवल तीन दिन ६० मिनट तैरानी जाती हैं। बारह सप्ताह में उन्होंने अपने कमर और पेट पर वसा से मुक्ति पा ली।

तैराकी ना सिर्फ अनचाहे पेट की वसा को कम करती है बल्कि मांस पेशियों को मजबूत करती है तथा हृदय को स्वस्थ रखती है।

५- उठक बैठक

कमर और पेट कम करने की एक्सरसाइज- बेल्ली फैट कम करने के उपाय में सबसे तेजी से परिणाम देने वाली क्रिया उठक बैठक है। आप जो भी हल्के फुल्के व्यायाम कर सकते हैं उसके साथ प्रतिदिन २५ से ३० उठक बैठक शामिल करें। उठक बैठक का सीधा असर पेट तथा कमर पर जमा चर्बी पर होता है। जो पहले ही दिन से तीव्र गति से वसा को पिघलाना शुरू कर देती है।

यदि आप कुछ हफ्ते इस एक व्यायाम को भी करते रहें तो शीघ्र ही आपकी कमर, पेट, जांघें आदि मजबूत तथा वसा रहित हो जायेंगी।

६- कमर और पेट कम करने के उपाय- सीढि़यों का प्रयोग

टमी कम करने के उपाय में सबसे सरल तथा आसान तरीका है कि आम प्रक्रिया खास तरीके से कि जाए। यदि आप किसी फ्लैट में रहते हैं तो लिफ्ट के बजाय सीढि़यों का प्रयोग करें। ऑफिस में भी सीढि़यों चढकर जाएं।

प्रतिदिन के इस अभ्यास से आपकी पाचन क्रिया अच्छी होगी तथा पेट तथा कमर पर जमा चर्बी भी पिघलने लगेगी। यदि आप व्यायाम के लिए प्रतिदिन समय नहीं निकाल पाते तो यह। सबसे उत्तम उपाय है।

७ प्लैंक, क्रंच, स्क्वाट का नियमित अभ्यास

कमर और पेट कम करने के उपाय/ Squat Images
कमर और पेट कम करने की एक्सरसाइज- ये तीनों ही क्रिया तीव्र गति से पेट तथा कमर की चर्बी कम करने का काम करती है। कुछ मिनटों के प्रतिदिन अभ्यास से अनचाहे वसा से मुक्ति के साथ सम्पूर्ण स्वास्थ्य में लाभ होगा।

८- समय पर तथा संतुलित आहार

भोजन इस शरीर का चलाने का वाहक है। स्वाद के बजाय स्वास्थ्य पर ध्यान दें। भोजन में भरपूर प्रोटीन, विटामिन आदि का प्रयोग करें। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि भोजन का समय निर्धारित करें तथा उसी समय पर प्रतिदिन भोजन करें।

भोजन में वसायुक्त पदार्थों का सेवन कम करें। कम से कम तब तक जब तक आप वजन कम करने का परिणाम ना पा लें। नियम पालन न सिर्फ आपके शारीरिक बल्कि मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी अच्छा है।

९- ध्यान, योग तथा मुद्राओं का अभ्यास

यदि आपके पास व्यायाम के लिए समय नहीं अथवा आपका स्वास्थ्य साथ ना दे रहा हो तो कुछ मुद्राओं का अभ्यास करें। ध्यान, योग अथवा मुद्रा आप एक स्थान पर बैठकर कर सकते हैं। इनके अभ्यास से आपको ऊर्जा मिलती है तथा वजन घटाने में भी सहायक हैं।

१०- कमर और पेट कम करने के उपाय- चिंता रहित जीवन चुनें

आजकल शरीर में बीमारियों का आना अथवा वजन का असंतुलित होना मानसिक संतुलन से सम्बन्धित है। जब आप चिंतित होते हैं तो भोजन तो करते हैं किन्तु पाचन क्रिया धीमी होने के कारण सम्पूर्ण भोजन पचता नहीं। जो धीरे धीरे कमर पर जमा होता रहता है।

स्वयं को जितना ज्यादा खुश तथा तनाव मुक्त रहेंगे आपकी पाचन प्रक्रिया उतनी ही स्वस्थ रहेगी। उपर्युक्त सभी उपाय दोगुना गति से लाभ देंगे यदि आप इस एक आखिरी बात को ध्यान में रखकर अभ्यास करेंगे।

कमर और पेट कम करने के उपाय/ पेट कम करने की दवा

यदि आप पेट कम करने के घरेलू उपाय और प्राकृतिक दवा की तलाश में हैं तो हम आपके लिए आसान प्रभावी दावा लेकर आए हैं।

कमर और पेट कम करने के उपाय/ MysticMind
१- अनानास नमक फल में एक ऐसा तत्व पाया जाता है जिसे ब्रोमलेन एंजाइम कहते हैं। अनानास के नियमित सेवन से पेट कुछ दिनों में ही फ्लैट हो जाता है।

२- फाइबर एक ऐसी चीज़ है जिसके सेवन से ना सिर्फ पेट कम होता है बल्कि स्वास्थ्य भी संतुलित रहता है। सेब में पैक्टिक नामक तत्व पाया जाता है साथ ही यह एक डाइट्री फाइबर है। इसके नियमित सेवन से पेट और कमर करना आसान हो जाता है।

३- टमाटर आपके घर में आसानी से पाई जाने वाली चीज़ है लेकिन शायद आपको यह नहीं पता कि इसके अंदर एक ऐसा तत्व पाया जाता है जो वजन घटाने के साथ खून में मौजूद लिपिड की मात्रा को भी कम करता है। भोजन में नियमित इसको शामिल करें।

४- खीरा ना सिर्फ प्यास बुझाता है बल्कि इसके मौजूद पोषक तत्व तथा फाइबर शरीर से विषैले पदार्थ बाहर निकलकर अतिरिक्त वसा से भी मुक्ति दिलाता है।

५- अजवाइन घर में पाई जाने वाली ऐसी चमत्कारिक चीज़ है जो आपका पाचन तंत्र ठीक करने के साथ शरीर से फैट बाहर निकलने में भी मददगार है। प्रतिदिन भोजन में तथा भोजन के बाद अजवाइन का सेवन करें। इसका प्रयोग आपको जल्दी ही पेट तथा कमर कम करने में मदद करेगा।

Final Words: पेट तथा कमर पर जितना जल्दी मोटापा बढ़ता है उतना ही कठिन होता है इसे कम करना। उपर्युक्त कमर और पेट कम करने के उपाय/ आसान तरीकों को अपनाकर आप आसानी से मोटापे से मुक्ति पा सकते हैं। आर्टिकल फायदेमंद लगा हो तो दूसरों के साथ अवश्य साझा करें।

Advertisement

2 thoughts on “कमर और पेट कम करने के उपाय तथा मोटापे के 8 मुख्य कारण”

Leave a Reply

%d bloggers like this: